ज़हरीली शराब मामले में सहारनपुर और कुशीनगर के डीएसपी निलंबित

उत्तर प्रदेश में ज़हरीली शराब की वजह से मरने वालों की संख्या दिन ब दिन बढ़ती जा रही है. जहरीली शराब ने कई घरों के चिराग बुझा दिये हैं. आपको बता दें, कि उत्तर प्रदेश में जहरीली शराब पीकर मरने वालों कि संख्या अब 65 हो गई है. जिसमें सहारनपुर में 54 लोगों की मौत और कुशीनगर में 11 लोगों की मौत हो चुकी है. हालांकि ज़हरीली शराब का कहर उत्तराखंड पर भी टूटा है. उत्तराखंड के हरिद्वार में अब तक 32 लोगों कि मौत हो चुकी है.

जानकारी के मुताबिक, उत्तर प्रदेश से कुछ लोग सात फरवरी को उत्तराखंड के रुड़की स्थित बालुपुरा में एक अंतिम संस्कार में शरीक होने के लिए पहुचें थे. जहाँ उन्होंने शराब का सेवन किया था. जिसके बाद एक के बाद एक हुई मौत की ख़बर ने उत्तर प्रदेश से उत्तराखंड तक के लोगों को झकझोंर दिया. वहींं इस हादसे के बाद निंद से जागी पुलिस लगातार इस मामले की तफ्तीश में जूट गई है.

आपको बता दें, कि उत्तर प्रदेश में ज़हरीली शराब के कारण लगातार हो रही मौत को लेकर यूपी के डीजीपी ओपी रावत ने पहले ही कड़े निर्देश दिये थे. लेकिन, जमीनी स्तर पर पुलिसकर्मियों की  लापरवाही बरतने से नाराज़ डीजीपी ओपी रावत ने कड़ी कार्रवाई करते  हुए सहारनपुर के देवबंद के डीएसपी सिद्धार्थ और कुशीनगर के डीएसपी राम कृष्ण तिवारी को निलंबित कर दिया है.

x

Check Also

राजस्थान में तीसरे दिन भी गुर्जर समाज का हिंसक अंदोलन जारी, धौलपुर में धारा 144 लागू

🔊 Listen to this पांच प्रतिशत आरक्षण की मांग को लेकर राजस्थान के धौलपुर में गुर्जर समाज के आंदोलन ने ...

error: Dont Copy !!