TRAI ने कहा, ‘अगर DTH और केबल टीवी आपरेटर नए टैरिफ प्लान के आदेश का उल्लंघन करते है तो परिणाम भुगतने को तैयार रहें’

भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण (TRAI) ने केबल टीवी और DTH कंपनियों को अपने नए टैरिफ प्लान के आदेश का उल्लंघन को लेकर चेतावनी दी है। नया टैरिफ प्लान 1 फरवरी, 2019 को लागू हुआ था। इस नियम में उपभोक्ताओं को अपने नए चैनल और केबल टीवी पैक को अपनी पसंद के मुताबिक चुनने की पूरी आजादी होती हैं।

हालांकि नए नियमों से ग्राहकों में काफी भ्रम की स्थिति थी। ग्राहकों को यह पता लगाना मुश्किल था कि अपने नए पैक और योजनाओं का चयन कैसे करें। कुछ मामलों में इसका मतलब मैन्युअल रूप से 100 या अधिक चैनल चुनना भी था। कई मामलों में कंपनियां अब ग्राहकों के लिए क्यूरेटेड पैक की पेशकश कर रही हैं।

ट्राई के चेयरमैन R S शर्मा ने बताया “हमें ग्राहकों को असुविधा के बारे में शिकायतें मिली हैं। ये शिकायतें सॉफ्टवेयर और सिस्टम से संबंधित होती हैं जो वितरकों द्वारा उपभोक्ताओं के लिए सही विकल्प को इनेबल नहीं करने देती हैं। यदि चैनलों का चुनाव प्रतिबंधित है। तो कंपनियों का इरादा अपने पैक और अपने खुद के एजेंडे को आगे बढ़ाने का है जोकि नियामक ढांचे की भावना नहीं है।”

उन्होंने कहा कि उपभोक्ताओं के लिए पैक का चयन करना ठीक है लेकिन टीवी पर और चैनल देखने का विकल्प ग्राहकों के पास रहना चाहिए है और ऐसा करने के लिए उन्हें वो आपरेटर द्वारा आज़ादी मिलनी चाहिए। ट्राई के प्रमुख ने कहा, “यदि आप उपभोक्ताओं को उनकी पसंद का प्रयोग करने से रोकते हैं तो यह फ्रेमवर्क का उल्लंघन है। हमने इन बातों को गंभीरता से लिया है, और हमने कई वितरकों को कारण बताओ नोटिस जारी किए हैं।”

x

Check Also

आज़म खान के बेटे ने कहा, ‘हमें अली भी चाहिए, बजरंगबली भी चाहिए लेकिन अनारकली नहीं चाहिए’

🔊 Listen to this समाजवादी पार्टी के नेता आज़म खान के बेटे अब्दुल्ला आज़म खान ने भाजपा की रामपुर की ...

error: Dont Copy !!