मेनका गांधी ने कहा कि अगर मुस्लिम उन्हें वोट नहीं देंगे तो वह भी उनके लिए काम नहीं करूंगी

केंद्रीय मंत्री और सुल्तानपुर से भारतीय जनता पार्टी की उम्मीदवार मेनका गांधी ने मुसलमानों से वोट देने की अपील करते हुए कहा कि अगर वे उन्हें वोट नहीं देंगे तो वह भी उनके लिए काम नहीं करेंगी।

इस भाषण का वीडियो भी वायरल हो रहा है। मेनका ने संबोधन के दौरान बार-बार इस बात पर जोर दिया कि यह चुनाव वो मुसलमानों के बिना भी जीत लेंगीं लेकिन अगर उसके बाद मुसलमानों को उनकी जरूरत पड़ी तो उनका का रवैया भी ऐसा होगा। मेनका ने आगे कहा: “ऐसा नहीं है कि हम लोग महात्मा गांधी की छठी औलाद हैं कि हम देते ही जाएंगे, देते ही जाएंगे … और फिर चुनाव में मात खाएंगे। यह आपको समझना पड़ेगा क्योंकि यह जीत आपके बिना भी होगी आपके साथ भी होगी। यह बात आपको हर जगह फैलानी पड़ेगी। जब मैं खुद दोस्ती का हाथ लेकर आईं हूं।”

इस बीच, दिल्ली में कांग्रेस ने मुस्लिम मतदाताओं के संदर्भ में केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी के एक बयान को लेकर शुक्रवार को चुनाव आयोग से आग्रह किया कि चुनावी कदाचार के लिए उनका नामांकन खारिज किया जाए। पार्टी ने यह भी कहा कि धार्मिक भावनाएं भड़काने के लिए मेनका के खिलाफ प्राथमिकी भी दर्ज होनी चाहिए।

मेनका गांधी इस बार सुल्तानपुर से चुनाव लड़ रही हैं जबकि उनके पुत्र वरूण गांधी उनकी सीट पीलीभीत से चुनाव लड़ रहे हैं। उत्तर प्रदेश चुनाव कार्यालय के सूत्रों ने बताया कि जिला चुनाव अधिकारियों की ओर थमाए गए नोटिस पर मेनका को तीन दिनों के भीतर जवाब देना होगा।

x

Check Also

तनुश्री दत्ता के बाद कंगना रनौत की बहन ने अजय देवगन को आलोक नाथ के साथ काम करने को लेकर सुनाई खरी खोटी

🔊 Listen to this तनुश्री दत्ता द्वारा आने वाली फिल्म ‘दे दे प्यार दे’ में बलात्कार के आरोपी आलोक नाथ ...

error: Dont Copy !!